नवरात्रि में मां का भोग

0

पहला पूजा दिन :

घी का भोग लगाएं और दान करें, बीमारी दूर होती है।
दूसरा पूजा दिन :

शक्कर का भोग लगाएं और उसका दान करें, आयु लंबी होती है।
तीसरा पूजा दिन :

दूध का भोग लगाएं और इसका दान करें, दु:खों से मुक्ति मिलती है।
चौथा पूजा दिन :

मालपुए का भोग लगाएं और दान करें, कष्टों से मुक्ति मिलती है।
पांचवां और छठा पूजा दिन :

केले व शहद का भोग लगाएं व दान करें, परिवार में सुख-शांति रहेगी और धन प्राप्ति के योग बनते हैं।
सातवां पूजा दिन :

गुड़ की चीजों का भोग लगाएं और दान भी करें, गरीबी दूर होती है।
आठवां पूजा दिन:

नारियल का भोग लगाएं और दान करें, सुख-समृद्धि की प्राप्ति होती है।
नौवां पूजा दिन:

अनाजों का भोग लगाएं और दान करें ,सुख-शांति मिलती है।

Share.

About Author

Comments are closed.